दुबई में मजदूर की सैलरी कितनी होती है? | Dubai me Helper ki Salary

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

दोस्तों, क्या आप जानना चाहते हैं कि दुबई में मजदूर की सैलरी कितनी होती है और यह भी जानना चाहते हैं कि दुबई में एक हेल्पर के रूप में हमें वहां पर किस तरह का काम मिल सकता है तो आप इस पोस्ट को शुरू से अंत तक जरूर पढ़ें

क्योंकि आज की इस पोस्ट में हम आपको बताने वाले हैं दुबई में मजदूर की सैलरी कितनी होती है, दुबई में मजदूर का काम कैसे मिलेगा, दुबई जाने के लिए हमें क्या करना होगा, कौन-सी वीजा की जरूरत होगी और क्या योग्यता होनी चाहिए तो इस तरह के तमाम प्रकार के सवालों के ऊपर हम विशेष रूप से बात करेंगे।

दुबई के ऊपर कुछ जानकारी

कई लोगों को विदेशों में नौकरी करनी की चाहत होती हैं लेकिन उनका सपना अधूरा रह जाता है क्योंकि वह ज्यादा पढ़े-लिखे नहीं होते हैं और इंग्लिश बोलना नहीं आता है तो वह सोचते हैं कि विदेशों में नौकरी करना हमारी बस की बात नहीं है।

लेकिन ऐसा नहीं है दोस्तों विदेशों में भी वही सब काम होता है जो हमारे इंडिया में भी होता है जैसे कि क्लीनिंग, फूड पैकिंग, सामान ढोना, मसाला बनाना आदि जैसे काम को करने के लिए दुबई में भी आए दिन मजदूरों की जरूरत होती रहती है। 

तो अगर आप ज्यादा पढ़े-लिखे नहीं है और थोड़ा-मोड़ा भी अंग्रेजी बोल लेते है तो आपके लिए दुबई बेस्ट जगह है क्योंकि दुबई में अधिकतर काम करने वाले व्यक्ति हमारे भारत, पाकिस्तान, बांग्लादेश और नेपाल के ही होते हैं और हम आपको जानकारी दे दें की एक हेल्पर की सैलरी भारत की अपेक्षा दुबई में दो तीन गुना अधिक ही होती है। 

दुबई में मजदूर की सैलरी कितनी होती है? 

दुबई में एक मजदूर की सैलरी की बात करें तो दुबई में एक मजदूर की सैलरी लगभग 900 से 1000 दिरहम तक होती है जो इंडियन करेंसी में लगभग 20,000 से लेकर 23,000 रुपए के बराबर होती हैं। 

यह सैलरी एक बेसिक सैलरी है अगर आप कंपनी में ओवरटाइम काम करते हैं तो आपको महीने की लगभग 1100 से 1200 दिरहम तक आराम से मिल जाती है जो इंडिया के लगभग 25,000 से लेकर 27,000 रुपए के बराबर है। 

यह भी जाने : सऊदी अरब में मजदूर की सैलरी कितनी है?

दुबई में पैकिंग सहायक वेतन कितनी होती है? 

दुबई में अगर आप पैकिंग वाली जॉब करना चाहते हैं तो आपको हम बता दें की दुबई में पैकिंग का काम बहुत ही कम होता है क्योंकि दुबई में Automated Machine लगी हुई होती है जो सभी प्रोडक्ट को मशीन के द्वारा पैक किया जाता है। 

लेकिन फिर भी यदि आप पैकिंग जैसे कामों में जॉब करना चाहते हैं तो आप कंपनियों में प्रोडक्ट को Trolley से इधर से उधर ले जाने वाली जॉब को कर सकते हैं जिसके लिए दुबई की कंपनी पैकिंग सहायक को वेतन 800 से 1000 दिरहम तक देती है जो इंडिया के लगभग 18,000 से लेकर 22,000 रुपए के बराबर होती है। 

यह भी जाने : ओमान में हेल्पर की सैलरी कितनी होती है?

दुबई में हाउसकीपर की सैलरी कितनी है?

दुबई में अगर बात करें हाउसकीपर की सैलरी की तो दुबई में हाउसकीपर की सैलरी महीने की लगभग 1100 से 1200 दिरहम तक होती है जो इंडिया के 24,000 से 26,000 रुपए के बराबर होती है। 

अगर आपको दुबई में हाउसकीपिंग का काम करना है तो आप दुबई के होटलों में जॉब कर सकते है क्योंकि वंहा पर आपको काफी सुविधा मिलेगी जैसे फ्री का खाना पीना, रहने के लिए रूम, आने जाने का वाहन और मेडिकल सुविधाएं आदि। 

लेकिन दुबई में हाउसकीपिंग का काम आपको तभी मिल पायेगा जब आपके पास हाउसकीपिंग काम करने का अनुभव रहेगा क्योंकि दुबई होटलों में जब वैकेंसी निकलती है तब वह वैसे कैंडिडेट की डिमांड रखते हैं जिनके पास कम से कम 1 या 2 साल का Experience होता है।  

यह भी जाने : कुवैत में हेल्पर की सैलरी कितनी होती है?

दुबई में हेल्पर की जॉब पाने के लिए क्या योग्यता होनी चाहिए? 

  • दुबई में हेल्पर की नौकरी पाने के लिए कम से कम आपको 10 वीं पास होना जरूरी है।
  • आपका उम्र न्यूनतम 18 और अधिकतम 45 वर्ष तक होनी चाहिए।
  • भाषा में आपको थोड़ा-मोड़ा अंग्रेजी बोलना और समझना आना चाहिए क्योंकि दुबई में अरबी के साथ साथ अंग्रेजी भी बोली जाती है। हालांकि, आपको दुबई में बहुत सारे इंडियन, पाकिस्तान, नेपाल और भी अन्य हमारे पड़ोसी देश के लोग मिल जाएंगे जो हिंदी बोलते हैं।
  • आपका शरीर पूरी तरह से स्वस्थ होनी चाहिए जिससे आप मेडिकल टेस्ट में फिट हो सके।

दुबई में हेल्पर की नौकरी कैसे पाएं? 

दुबई में हेल्पर की नौकरी पाने के लिए आपके पास 3 तरीके हैं :

  1. ऑनलाइन जॉब वेबसाइट के द्वारा
  2. गल्फ जॉब कंसलटेंसी के द्वारा
  3. दोस्त या रिश्तेदार के द्वारा

1. ऑनलाइन जॉब वेबसाइट के द्वारा

दुबई में हेल्पर की नौकरी पाने के लिए आप ऑनलाइन में मौजूद कई सारे रोजगार देने वाली वेबसाइटों की मदद ले सकते हैं। जैसे Indeed.com, naukrigulf.com और glassdoor.com आदि।

  • सबसे पहले आप इन वेबसाइटों में आप अपना रिज्यूम सबमिट करके एक अच्छा-सा प्रोफाइल बना लेंगे।
  • प्रोफाइल बनाने के बाद इन वेबसाइटों पर आने वाली वैकेंसीयों को चेक करते रहेंगे जिनमें आप हेल्पर की जॉब को ढूंढ सकते है। 
  • अगर दुबई के किसी भी कंपनी में हेल्पर के लिए कोई वैकेंसी निकलती है तो आप जॉब के लिए अप्लाई कर देंगे।
  • जिसके बाद यदि आपका रिज्यूम कंपनी के शॉर्ट लिस्ट में सिलेक्ट होता है तो आपको कुछ दिन के बाद कंपनी की ओर से mail की जाएगी और एक छोटा सा इंटरव्यू ली जाएगी।
  • उसके बाद यदि आप उस कंपनी के लिए सही कैंडिडेट साबित होते हैं तो आपको कंपनी वर्क वीजा स्पॉन्सर कर देगी।
  • फिर उस वर्क वीजा के जरिए आप दुबई जाने के लिए एलिजिबल हो जाते हैं और वहां जॉब कर सकते हैं।

Note : ध्यान दें यदि आप ऑनलाइन जॉब ढूंढेंगे तो आपको कई सारे ऐसे फ्रॉड करने वाले व्यक्ति मिलेंगे जो आपको दुबई में जॉब दिलवाने के नाम पर पैसे की डिमांड करें तो आप कृपया उन्हें पैसे न दे क्योंकि वर्क वीजा कंपनी की ओर से फ्री में स्पॉन्सर की जाती है इसके लिए कोई पैसे नहीं लगते है।

2. गल्फ जॉब कंसलटेंसी के द्वारा

दुबई में हेल्पर की नौकरी पाने के लिए दूसरा तरीका है कि आप किसी ट्रस्टेड गल्फ जॉब कंसलटेंसी की सहायता ले सकते हैं जो आपको भारत के बड़े-बड़े शहरों में मिल जाएगी।

यहां पर भी गल्फ जॉब कंसलटेंसी वाले दुबई में जॉब लगवाने के नाम पर भोले भाले व्यक्तियों को चूना लगा देते हैं यानी उनके साथ Scam कर देते हैं।

यदि आपको सरकार द्वारा लाइसेंस प्राप्त जॉब कंसलटेंसी का पता चाहिए तो आप यहां क्लिक करके जाने।

देखिए कंसल्टेंसी यानी एजेंसी का काम होता है कि वैसे लोगों को विदेशों में भेजना जो विदेशों में काम करना चाहते हैं।

एजेंट का संपर्क सभी विदेशी कंपनियों से होती है जिसके कारण उन्हें पता चलता है कि इस कंपनी में इस पद की जॉब खाली है और आदमी की जरूरत है तो वह अपने देश के लोगों को वहां भेजती है जिसके बदले उन्हें कमीशन मिलता है और साथ ही कैंडिडेट से भी अपनी प्रोसेसिंग फीस लेती हैं।

3. दोस्त या रिश्तेदार के द्वारा

तीसरा तरीका है कि आप अपने रिश्तेदार या दोस्त से संपर्क कर सकते हैं जो दुबई में पहले से ही काम कर रहे होंगे या दुबई से घूर कर आए होंगे तो उन्हें दुबई का माहौल कैसा होता है अच्छी तरीके से पता होता है। 

तो आप उनसे संपर्क करके हेल्पर की जॉब के बारे में जानकारियां प्राप्त कर सकते हैं और गाइडेंस ले सकते हैं कि किस तरह से दुबई में हेल्पर की जॉब मिलेगी। 

दुबई जाने के लिए आवश्यक डॉक्यूमेंट की लिस्ट

  • आधार कार्ड 
  • पैन कार्ड
  • पासपोर्ट 
  • वीजा
  • निवासी प्रमाण पत्र
  • एकेडमिक शिक्षा सर्टिफिकेट
  • मेडिकल टेस्ट सर्टिफिकेट
  • पासपोर्ट साइज फोटो 

अंतिम शब्द

दोस्तों, हमें उम्मीद है कि इस पोस्ट में दी गई जानकारी दुबई में मजदूर की सैलरी कितनी होती है जो आपके लिए बहुत ही जरूरतमंद साबित हुई होगी और आपको अच्छी लगी होगी।

तो अगर आपको जानकारी अच्छी लगी हो तो आप अपने दोस्तों को भी जरूर शेयर कर दें जो दुबई में जॉब करना चाहते हैं और अगर आपके पास कोई प्रश्न हो तो आप कमेंट करें हम आपके कमेंट का रिप्लाई जल्द से जल्द देने की कोशिश करेंगे।

धन्यवाद !

FAQ

Q1. दुबई में लेबर की सैलरी कितनी है? 

दुबई में लेबर की सैलरी महीने की लगभग 900 से 1000 दिरहम तक होती है जो इंडिया के लगभग ₹20,000 से लेकर ₹23,000 के बराबर होती हैं। 

Q2. दुबई में वेल्डर की सैलरी कितनी है? 

दुबई में एक वेल्डर की सैलरी महीने की औसतन 1500 से 1600 दिरहम तक होती है जो इंडिया के लगभग ₹33,000 से लेकर ₹35,000 के बराबर होती है। 

Q3. दुबई में प्लंबर की सैलरी कितनी होती है?

दुबई में प्लंबर की सैलरी महीने की लगभग 1400 से 1600 दिरहम तक होती है जो इंडिया के लगभग ₹30,000 से लेकर ₹35,000 के बराबर होती है। 

Q4. दुबई में नौकरी करने के लिए क्या करना पड़ेगा?

दुबई में नौकरी करने के लिए सबसे महत्वपूर्ण चीज वर्क वीजा पाना होगा।

4.6/5 - (14 votes)
Share it

Leave a Comment