पैरामेडिकल सैलरी कितनी होती है? जाने पूरी जानकारी के साथ

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

दोस्तों, कई छात्र पैरामेडिकल का कोर्स करने से पहले ही पैरामेडिकल सैलरी के बारे में पता करना चाहते हैं कि आखिर अगर हम पैरामेडिकल कोर्स कर लेते हैं तो हमें कितनी सैलरी मिल सकती है?

यह एक स्वाभाविक की बात है क्योंकि कोई भी काम अगर कोई व्यक्ति करता है या उस काम को सीखने के लिए अपना कैरियर एवं समय समर्पित करता है तो उसके बदले में उन्हें संतुष्ट जनक सैलरी जरूर प्राप्त होनी चाहिए।

तो अगर आप जानना चाहते है की पैरामेडिकल सैलरी कितनी होती है तो यह पोस्ट को शुरू से अंत तक जरुर पढ़े।

पैरामेडिकल सैलरी कितनी होती है? | Paramedical salary in hindi

सबसे पहले जान लेते हैं कि आखिर पैरामेडिकल करने वाले को क्या कहते हैं जो कैंडिडेट पैरामेडिकल कोर्स करने के बाद हेल्थ केयर में एक्स-रे, सोनोग्राफी, और फिजियोग्राफी जैसे सर्विस मरीज को प्रोवाइड करते हैं उसे पैरामेडिकल स्टाफ के नाम से जाना जाता है।

तो बात करें कि एक औसतन पैरामेडिकल स्टाफ की सैलरी कितनी होती है तो देखिए अगर पैरामेडिकल छात्र एक Fresher के रूप में किसी Health Sector या Hospital में जॉब करता है तो उन्हें मासिक वेतन लगभग 10,000 से 15,000 रुपए तक मिल जाएगी।

लेकिन यह कोई फिक्स नहीं है, हो सकता है इससे भी अधिक सैलरी मिले, जिसकी अधिक जानकारी के लिए आप आगे पढ़ सकते हैं।

पैरामेडिकल की सैलरी इन कारणों से कम-ज्यादा हो सकती है?

तो बात करें पैरामेडिकल स्टाफ की सैलरी की तो हर एक पैरामेडिकल स्टाफ की सैलरी अलग-अलग हो सकती है इसका कारण यही है की :

  • पैरामेडिक पैरामेडिकल कोर्स किस कॉलेज से किया है? 
  • पैरामेडिक अनुभवी है या फिर फ्रेशर है? 
  • कौन से चिकित्सालय या अस्पताल में पैरामेडिक जॉब कर रहा है? 
  • पैरामेडिक का पैरामेडिकल कोर्स का स्तर कितना है? 

शुरुआत में सैलरी कम हो सकती जैसे कि हमने आपको पहले ही बताया,

लेकिन वहीं पर अगर आप 4-5 साल तक इस फील्ड में काम करते हैं और एक अच्छा खासा अनुभव प्राप्त करते हैं तो आपकी सैलरी लगभग 30,000 से 50,000 रुपए तक हो सकती है।

वैसे पैरामेडिकल स्टाफ के पास काफी कुछ अनुभव होता है जिसके कारण वह डॉक्टर का अधिकतर काम वही कर देते हैं और उसी अनुभव के आधार पर उन्हें इतनी सैलरी मिल जाती है।

पैरामेडिकल कोर्सेजवार्षिक वेतन(₹)
Bachelor of Physiotherapy (BPT)2 – 3 लाख
Bachelor of Science in Nursing (BSc Nursing)2.5 – 3 लाख
Bachelor of Pharmacy (BPharm)1.5 – 3 लाख
Bachelor of Medical Lab Technology (BMLT)2 – 3 लाख
Diploma in Medical Imaging Technology (DMIT)1 – 2 लाख
Diploma in X-Ray Technology (DXT)1.5 – 2 लाख
Diploma in Pharmacy (DPharm)1.5 – 2 लाख
Diploma in Nursing Care Assistant 1 – 2 लाख
Diploma in Dental Hygiene (DDH)1 – 2 लाख
Certificate in Home Based Health Care0.8 – 1 लाख

पैरामेडिकल क्या होता है?

पैरामेडिकल एक प्रकार का मेडिकल कोर्स होता है जिसको करने से एक छात्र पैरामेडिकल स्टाफ बनता है जो डॉक्टरों के कामों में हाथ बटाता है मतलब की डॉक्टर का एक प्रकार से सहायक व्यक्ति होता है।

जो किसी भी चिकित्सालय में एक्स-रे, सोनोग्राफी, फिजियोथैरेपी, खून की जांच करना और अन्य जैसे तमाम प्रकार की सेवाओं में अपना योगदान देता हैं।

एक किसी अस्पताल में भले ही डॉक्टर की संख्या कम होगी लेकिन पैरामेडिकल स्टाफ की संख्या डॉक्टर के संख्या के मुकाबले में काफी अधिक होती है क्योंकि डॉक्टर के कार्य के बाद जो भी अस्पताल में कार्य होते हैं वह पैरामेडिकल स्टाफ ही देखती है या देखता है।

पैरामेडिकल स्टाफ का मुख्य कार्य क्या होता है?

पैरामेडिकल स्टाफ का मुख्य कार्य निम्नलिखित है:

  1. पैरामेडिकल स्टाफ आपातकालीन स्थितियों जैसे दुर्घटनाओं, आपदाओं से पीड़ित रोगियों को उपचार के लिए तत्काल चिकित्सा सहायता प्रदान करते हैं।
  2. पैरामेडिकल स्टाफ रोगियों की जांच करते हैं और उन्हें उपचार के लिए डॉक्टर से मुलाकात करवाते हैं।
  3. पैरामेडिकल स्टाफ चिकित्सा उपकरणों जैसे एम्बुलेंस उपकरण, चिकित्सा छवियाँ लेने के उपकरण, दवाएं और अन्य चिकित्सा सामग्री को मैनेज करते हैं और उन्हें सटीकता से उपयोग करते हैं।
  4. यह अस्पतालों में उपस्थित रोगियों को रिकवरी और देखभाल का जिम्मेवारी संभालते हैं।
  5. पैरामेडिकल स्टाफ चिकित्सा सुविधा में डॉक्टरों और नर्सिंग स्टाफ को सहायता प्रदान करते हैं।
  6. मरीजों के खून का जांच करना और उनका सैंपल लेना पैरामेडिकल स्टाफ का कार्य होता है।

पैरामेडिकल स्टाफ बनने के लिए योग्यता क्या होगी?

  1. पैरामेडिकल स्टाफ बनने के लिए किसी भी मान्यता प्राप्त बोर्ड से 10वीं या 12वीं कक्षा में न्यूनतम 50% से पास होनी चाहिए और 12वीं कक्षा में PCB स्ट्रीम होना चाहिए।
  2. आयु सीमा 18 से 35 वर्ष के बीच होनी चाहिए।
  3. पैरामेडिकल पदों के लिए आवेदकों को अपने योग्यता संबंधी प्रमाणपत्रों को सटीक रूप से प्रमाणित करना होता है।

पैरामेडिकल कोर्स कितने प्रकार के होते है?

पैरामेडिकल कोर्स को करने के लिए तीन स्तरीय पर कोर्स को किया जा सकता है:

  1. Degree Paramedical Courses
  2. Diploma Paramedical Courses
  3. Certificate Paramedical Courses

1. Degree Paramedical Courses

पैरामेडिकल कोर्स स्नातक की डिग्री के स्तर पर होता है जिसकी समय अवधि 1.5 वर्ष से लेकर 4 वर्ष तक का होता है।

Courses ListDuration(Year)
B.Sc Nursing4
B.Sc (Radio Therapy)3
Bachelor of Physiotherapy4
B.Sc (Allied Health Services)4
B.Sc in Critical Care Technology3
Bachelor of Naturopathy & Yogic Science5
B.Sc in Dialysis Therapy3
B.Sc (Respiratory Therapy Technology)3
BPT – Bachelor of Physio / Physical Therapy3 – 5
B.Sc in Operation Theatre Technology3
B.Sc (Audiology and Speech Therapy)3
B.Sc (Medical Lab Technology)3
B.Sc (Ophthalmic Technology)3
B.Sc (Nuclear Medicine)3
B.Sc (Radiography)3

2. Diploma Paramedical Courses

पैरामेडिकल कोर्स डिप्लोमा के स्तर पर होता है जिसकी समय अवधि 1 से 2 वर्ष तक होता है।

Courses ListDuration(Year)
Diploma in X-Ray Technology2
Diploma in Dental Hygienist2
Diploma in Medical Record Technology2
Diploma in Physiotherapy2
Diploma in Medical Imaging Technology2
Diploma in Medical Laboratory Technology3
Diploma in Anaesthesia2
Diploma in Dialysis Technology2
Diploma in Ophthalmic Technology2
Diploma in OT Technician2
Diploma in Rural Health Care1
Diploma in Nursing Care Assistant2
Diploma in Hear Language and Speech2

3. Certificate Paramedical Courses

सर्टिफिकेट पैरामेडिकल कोर्स एक Short term कोर्स होता है जिसकी समय अवधि मात्र 6 महीने से 1 साल तक होता है। ये कोर्स छात्रों को diagnostic, therapeutic और patient care जैसे सेवाएं किस तरह से प्रदान करना है इसकी ट्रेनिंग दी जाती है और यह कोर्स पैरामेडिकल कोर्स का सबसे निम्न स्तरीय का कोर्स होता है जिसका क्वालिफिकेशन सिर्फ 10वीं पास है।

Courses nameDuration(Month)
Certificate in Research Methodology6 – 12
Certificate in Lab Assistant/Technician6 – 12
Certificate in Nursing Care Assistant6
Certificate in Operation Theatre Assistant12
Certificate in Dental Assistant6
Certificate in ECG and CT Scan Technician12
Certificate in HIV and Family Education6
Certificate in Nutrition and Childcare6 – 12
Certificate in Rural Health Care12
Certificate in Home-Based Health Care6

निष्कर्ष

तो दोस्तों हमें उम्मीद है कि इस पोस्ट में दी गई जानकारी पैरामेडिकल सैलरी कितनी होती है? आपके लिए बहुत ही जरूरतमंद साबित हुआ है और आपको कुछ न कुछ जानने को मिला होगा।

अगर आपको जानकारी अच्छी लगी हो तो आप अपने दोस्तों को भी जरूर शेयर कर दें जो अभी PCB में पढ़ाई कर रहे हैं या पैरामेडिकल जॉब करने में इंटरेस्ट हो।

इसके अलावा, अगर आपके पास कोई प्रश्न हो तो आप कमेंट करें हम आपके कमेंट का रिप्लाई जल्द से जल्द देने की कोशिश करेंगे।

धन्यवाद !

FAQ

Q1. पैरामेडिकल कोर्स फीस कितनी होती है?

औसतन बात किया जाए तो पैरामेडिकल कोर्स की फीस लगभग 2 लाख से लेकर 5 लाख रुपए तक होती है।

Q2. पैरामेडिकल कोर्स में सबसे अच्छा कोर्स कौन सा है?

पैरामेडिकल कोर्स में BSC नर्सिंग और बैचलर ऑफ फिजियोथेरेपी (BPT) को एक अच्छा कोर्स माना जाता है।

Q3. पैरामेडिकल में कितने कोर्स होते हैं?

पैरामेडिकल में 3 तरह के कोर्स होते हैं डिग्री पैरामेडिकल कोर्स, डिप्लोमा पैरामेडिकल कोर्स और सर्टिफिकेट पैरामेडिकल कोर्स।

Q4. पैरामेडिकल कोर्स कितने साल का होता है?

पैरामेडिकल कोर्स उच्च स्तरीय कोर्स(स्नातक डिग्री) के लिए अधिकतम 4 साल का होता है और निम्न स्तरीय कोर्स(सर्टिफिकेट पैरामेडिकल कोर्स) के लिए न्यूनतम 6 महीने का होता है।

Q5. क्या पैरामेडिकल और बीएससी नर्सिंग एक ही है?

नहीं, बीएससी नर्सिंग पैरामेडिकल कोर्स का एक ब्रांच होता है।

2/5 - (1 vote)
Share it

Leave a Comment